Pages

Followers

Thursday, November 10, 2016

अपनी अपनी औकात

वैसे, जिसकी जितनी औकात होती है वो उतने ही बड़े फ़ैसले लेता है,कांग्रेस ने चवन्नी बन्द की थी।


...न माने सिर्फ़ बता रहे हैं।

#BlackMoneyCrackDown

5 comments:

सुशील कुमार जोशी said...

:) नो कमेनट्स ।

ब्लॉग बुलेटिन said...

ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, "'बंगाल के निर्माता' - सुरेन्द्रनाथ बनर्जी - ब्लॉग बुलेटिन “ , मे आप की पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

savan kumar said...

बडे नोट बंद करना एक अच्छी पहल................
http://savanxxx.blogspot.in

राकेश कुमार श्रीवास्तव राही said...

परख अपनी-अपनी.

सु-मन (Suman Kapoor) said...

बढ़िया शुरुआत

Post a Comment